कांग्रेस विधायक के सामने अधिकारियो को घुटने पर बैठना पड़ा भारी……हटाए जा सकते हैं

Officers kneeling before Congress MLAs can be removed

कांग्रेस विधायक के सामने अधिकारियो को घुटने पर बैठना पड़ा भारी……हटाए जा सकते हैं
रिपोर्ट - ब्यूरो CTN भारत, इंदौर

इंदौर | इंदौर के राजबाड़ा में शनिवार को धरने पर बैठे कांग्रेस नेताओं के सामने घुटनों के बल बैठकर बात करने वाले एसडीएम और सीएसपी पर गाज गिर सकती है| सूत्रों के मुताबिक इंदौर सांसद शंकर लालवानी ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को फोन लगाकर इस मामले में अधिकारियों को लेकर नाराजगी व्यक्त की है| एसडीएम और सीएसपी को हटाने की बात कही है | जल्द ही दोनों अफसरों को हटाया जा सकता है|

इससे पहले कलेक्टर मनीष सिंह ने एसडीएम राकेश शर्मा को कांग्रेस नेताओं के सामने घुटने टेकने पर नोटिस दिया है| कलेक्टर ने इसको कार्यपालक मजिस्ट्रेट की पदीय गरिमा और प्रशासनिक अनुशासन, आचरण के खिलाफ बताया है| उनके इस कृत्य से प्रशासन की छवि धूमिल हुई है। कलेक्टर ने इस संबंध में कारण बताओ नोटिस जारी कर कहा है कि क्यों न एक मजिस्ट्रेट की मर्यादा के विरुद्ध किए गए इस कृत्य के कारण संबंधित के विरुद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही की जाए।

क्या है पूरा मामला -
दरअसल, शुक्रवार को भाजपा के पूर्व विधायक सुदर्शन गुप्ता ने कमला नेहरू कॉलोनी के मैदान पर केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के जन्मदिन के अवसर पर राशन वितरण कार्यक्रम का आयोजन किया था। इस दौरान राशन के लिए भारी भीड़ जुटी और राशन की लूट हो गई| इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का भी ख्याल नहीं रखा गया| इसी मामले को लेकर शनिवार को भाजपा नेताओं की सद्बुद्धि के लिए धरने पर बैठ गए। सुबह मां अहिल्या प्रतिमा के सामने प्रदेश कांग्रेस के मीडिया प्रभारी जीतू पटवारी, विधायक संजय शुक्ला, विधायक विशाल पटेल और शहर कांग्रेस अध्यक्ष विनय बाकलीवाल ने धरना शुरू किया। बिना अनुमति के धरने पर बैठे नेताओं को समझाने के लिए एसडीएम राकेश शर्मा पुलिस अधिकारी के साथ मौके पर पहुंचे। बातचीत के बीच बीच में वे विधायकों को हाथ जोड़कर कर धरना समाप्त करने को मनाते भी दिखते हैं। किसी ने इस घटना का वीडियो बनाकर वायरल कर दिया। इसके भाजपा नेता आग बबूला हो गये।

देखे पूरा वीडियो