प्रदेश के इन विभागों में सबसे ज्यादा तबादले पेंडिंग, हजारो अधिकारी-कर्मचारी होंगे इधर से उधर

Most of the transfers are pending in these departments of the state, there will be thousands of officers and employees from here to there.

प्रदेश के इन विभागों में सबसे ज्यादा तबादले पेंडिंग, हजारो अधिकारी-कर्मचारी होंगे इधर से उधर
रिपोर्ट। एडिटर दीपक कोल्हे

प्रदेश के इन विभागों में सबसे ज्यादा तबादले पेंडिंग, हजारो अधिकारी-कर्मचारी होंगे इधर से उधर

भोपाल। मध्यप्रदेश में एक बार फिर से तबादले प्रतिबंध हटाया गया। प्रदेश में 31 अगस्त तक तबादले हो सकेंगे। इससे पहले कई विभाग में तबादला लिस्ट पहले ही जारी कर दिया जबकि कई विभाग में अभी तबादले होने हैं। वही आंकड़ों की माने तो मध्य प्रदेश में अगले 10 दिनों में 31 हजार से अधिक तबादले होंगे।

बता दें कि तबादला ने फर्जी नोटशीट मामले के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश में तबादले पर एक बार फिर से बैन लगा दिया था। हालांकि मध्य प्रदेश सरकार में विभाग के तबादले को लेकर नए आदेश जारी किए गए हैं। जिसके अंतिम तारीख 31 अगस्त निर्धारित की गई है। इस अवधि में विभिन्न विभागों में नियम अनुसार तबादले किए जाएंगे।

जिन विभागों में सबसे अधिक तबादले होंगे। उसमें स्कूल शिक्षा विभाग में 4000 से अधिक मामले पड़े हुए हैं। जबकि उच्च शिक्षा विभाग में 1327, पंचायत और ग्रामीण विकास में 2100, महिला एवं बाल विकास में करीबन 800, नगरीय विकास और आवास में 1300 से अधिक और स्वास्थ्य विभाग में 1600 अधिकारियों के तबादले होने हैं।

मध्य प्रदेश में 31 अगस्त तक तबादले किए जाएंगे।संभावना है कि आज-कल में रुके हुए तबादलों की लिस्ट जारी की जा सकती है।हालांकि रोक के बावजूद  प्रदेश में श्रम विभाग ने 6 अगस्त तबादले किए गए है और कर्मचारी राज्य बीमा सेवाएं संचालनालय ने 12 अगस्त को सहायक शल्क चिकित्सक और दंत चिकित्सकों का प्रशासकीय और स्वैच्छिक आधार पर भी ट्रांसफर हुए। इसी बीच पुलिसकर्मियों के तबादलों का भी सिलसिला जारी रहा, इस पर विपक्ष ने सवाल भी खड़े किए थे।